मेरे जीवन का लक्ष्य पर निबंध | Essay On My Aim of life in Hindi

मेरे जीवन का लक्ष्य पर निबंध | Essay On My Aim of life in Hindi प्रत्येक व्यक्ति जीवन में कुछ न कुछ बनने का लक्ष्य रखता है और बचपन से ही तैयारियों में जुट जाता है ।

मेरे जीवन का लक्ष्य : Teacher अध्यापक

मेरे जीवन का लक्ष्य है- कि मैं एक सफल अध्यापक बनें । अपनी अभिलाषा पूरी करने के लिए मैं मन लगाकर पढ़ाई करने में लगा हूँ । मैं अध्यापक इसलिए बनना चाहता हूँ क्योंकि आज का अध्यापक ही कल के भारत का निर्माता है ।

एक सफल अध्यापक अपने शिष्यों को उचित राह दिखाता है जिससे वे प्रगति की ओर बढ़ते हैं । यदि सही ढंग से शिक्षा दी जाएगी तो आज के बच्चे कल के योग्य नागरिक बनेंगे ।

योग्य नागरिक ही देश के गौरव को बढ़ा सकते हैं । सुशिक्षित नागरिक ही देश के निर्माता होते हैं । मैं अध्यापक बनकर अपने शिष्यों के लिए नेक आचरण , एक आदर्श मानव और सादा जीवन उच्च विचार का एक ऐसा उदाहरण प्रस्तुत करूंगा जिसे अपनाकर वे आदर्श नागरिक बन सकेंगे ।

मैं अपने शिष्यों को पूरी लगन के साथ पढ़ाऊँगा तथा उनकी समस्याओं को दूर करने का प्रयास करूंगा । उनका मार्गदर्शन भी करूंगा । मैं चाहूंगा कि मेरे शिष्य पढ़ – लिखकर योग्य डॉक्टर , इंजीनियर , वैज्ञानिक , खिलाड़ी , सैन्य अधिकारी आदि बने ।

मैं अपने शिष्यों में देशभक्ति की ऐसी भावना भरने का प्रयास करूंगा जिससे वे देश के गौरव की रक्षा के लिए अपना सर्वस्व त्यागने को तत्पर रहें ।

अपने शिष्यों का पूर्ण विकास करना ही मेरा लक्ष्य रहेगा । स्वयं को देश के लिए एवं बच्चों के भविष्य को संवारने में समर्पित करके ही मेरा जीवन सफल होगा ।

Leave a Comment