समाचार पत्र पर निबन्ध । Essay On Newspaper In Hindi

समाचारों का खज़ाना – समाचार पत्र पर निबन्ध आज हम समाचार पत्र पर निबन्ध लेखन करेगे जो आपके परीक्षा की दृष्टि से महत्वपूर्ण हो सकता है, जो भी छात्र class 1 से 9 तक मे हैं उनके अनुसार ये समाचार पत्र पर निबन्ध लेखन किया गया है ।

समाचार पत्र पर निबन्ध ( Essay On Newspaper in Hindi )

समाचार -पत्र जिसे अंग्रेजी में Newspaper कहते हैं । यह सूचना, खबर तथा जानकारी का भण्डार हमारा समाचार – पत्र । समाचार पत्र के जरिये देश विदेश की खबर तथा घटनाओं का पता हमे घर बैठे लग जाता है । सुबह जागते ही समाचार पत्र हमारी आँखों के सामने होता है । यह हमारे जीवन का एक अभिन्न हिस्सा बन चुका है । वैसे तो दुनिया मे अनेक ऐसे साधन हैं जिससे हमें खबर और मनोरंजन होता है परन्तु जो सुख और आनंद हमे समाचार पत्रों से मिलता ही वो इन चीज़ों जैसे – टी ० वी ० , रेडियो , इंटरनेट आदि से नही मिलता , जिनके द्वारा हम दिन भर पलक झपकते ही दुनिया भर के समाचार देख और सुन सकते हैं , परंतु फिर भी समाचार – पत्र का महत्व कम नहीं हुआ है यह समाचार प्राप्त करने का एक सस्ता व सरल साधन में से एक है ।

समाचार – पत्र की शुरुआत

इसके विषय में माना जाता है कि चीन में सबसे पहले कागज का आविष्कार हुआ था । चीन के ही ‘ पीकिग गजट ‘ नाम के समाचार – पत्र को विश्व का पहला समाचार – पत्र मानते हैं । भारत में समाचार – पत्र की शुरुआत सन् 1720 ई ० में हुई थी । पहला समाचार – पत्र अंग्रेजों द्वारा निकाला गया था । इसके बाद सन् 1835 ई ० में अंग्रेजों ने भारतीयों को समाचार – पत्र छापने की आजादी दे दी थी । इसके बाद विभिन्न भाषाओं में समाचार – पत्र छापे जाने लगे ।

समाचार पत्र का समाज में योगदान

समाचार पत्र खबरों तथा जानकारी का आदान प्रदान का एक मुख्य बिंदु रहा हैं । देश या विश्व के किस कोने में कब क्या घटा , इसकी जानकारी हमें समाचार – पत्र से अगले ही दिन मिल जाती है । राष्ट्रीय तथा अंतर्राष्ट्रीय एकता की भावना का प्रचार भी इन्हीं के द्वारा होता है ।

समाचार पत्र के फायदे और उपयोग

समाचार – पत्र में देश – विदेश की खबरों के साथ – साथ खेल जगत के समाचार , बाजार भाव , बच्चों की दुनिया तथा फ़िल्म जगत के समाचार भी छपते हैं । इसके अतिरिक्त लेख , कहानियाँ , कविताएँ , चुटकुले आदि भी पढ़ने को मिलते है । उत्पादन की बिक्री बढ़ाने में विज्ञापनों का महत्वपूर्ण स्थान है । ये विज्ञापन समाचार – पत्र के ज़रिए हम सभी तक घर में आ जाते हैं । सही खबर देना तथा गलत भावना को न भड़काना समाचार – पत्रों की ज़िम्मेदारी होती है ।

उपसंहार

समाचार – पत्र देश के नागरिकों को उचित ज्ञान देने के लिए महत्वपूर्ण स्थान रखता है । जिससे ये देश की उन्नति में अपना सार्थक योगदान दे सके ।

Leave a Comment